spam meaning in hindi

Spam Meaning In Hindi | Spam क्या होता है कैसे होता है और इससे कैसे बचे?

Technology Explained

Spam Meaning In Hindi

अगर आप भी Spam Meaning In Hindi जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े। क्योकि इस पोस्ट में मैं आपको spam meaning In Hindi बताऊंगा। साथ ही आपको यह भी बताउँगा की स्पैम क्या होता है स्पैम क्यों होता है और स्पैम से कैसे बचे?

Spam क्या होता है?

इंटरनेट पर कुछ भी काम करने के कुछ नियम व कानून होते है और यह नियम व कानून हर प्लेटफार्म के अलग अलग होते है जब आप किसी काम को उन नियमो को तोड़ कर अवैध रूप से करते है तो उसे Spam कहते है।

यह स्पैम हर एक जगह होता है जैसे ईमेल और सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक, व्हाट्सप्प आदि। वैसे तो इंटरनेट पर हर जगह स्पैम होता है लेकिन इन दो प्लेटफार्म में spam बोहोत ज्यादा होता है और खासतौर पर e-mail में। अप्रैल 2008 के एक अध्ययन से पता चला कि हर रोज कम से कम 100 अरब spam mail भेजी जाती है।

spam means in hindi

Spam Mail क्या होती है?

अब आप Spam Meaning In Hindi तो समझ गए होंगे। अब बात करते है की यह spam mail क्या होती है। जब कोई भी sender किसी को बोहोत बड़ी तादाद में विज्ञापन की मेल भेजता है तो उसे spam मेल कहते है। दूसरे शब्दों में स्पैम उस प्रकार के ईमेल को कहते है जो थोक में भेजा जाता है। यह ईमेल बिना आपकी अनुमति के आते है। यह ईमेल केवल और केवल विज्ञापन से ही भरे होते है।

सोशल नेटवर्किंग साइट पर Spam

व्हाट्सप्प में भी स्पैम होता है आपने कई बार व्हाट्सप्प पर कुछ अजीब से मैसेज देखे होंगे। जैसे इस लिंक को अपने 10 दोस्तों के साथ शेयर करे और फिर आप आईफोन जीत सकते है। इसके अलावा कुछ ऐसे भी मैसेज आते है की इस लिंक को अपने दस दोस्तों के साथ शेयर करने पर आपको 100 GB डाटा मिलेगा। जो की बिलकुल ही झूट होता है। तो अगली बार यदि आपको भी ऐसा कोई मैसेज आता है तो आप उस लिंक पर बिलकुल भी क्लिक न करे। और उस मैसेज को शेयर भी न करे। अगर आपको कोई ऐसा मैसेज भेजता है तो आप उसे बताये की यह spam है और ऐसे मैसेज शेयर करने से वह कोई आईफोई या कुछ भी जीत नहीं पायेगा। तो आगे से वह ऐसा न करे। शेयर करने से आप उस spam करने वालो की मदद कर रहे है।

फेसबुक पर भी स्पैम होता है जैसे यदि फेसबुक पर एक ही लिंक को कोई एक जन बार बार शेयर या कॉपी पेस्ट करता है तो वह फेसबुक की पॉलिसी के अनुसार spam कर रहा है ऐसे में फेसबुक उसे कुछ दिन के लिए ब्लॉक कर देगा।

अन्य Spam

जैसे मैंने आपको पहले ही बताया था की स्पैम केवल ईमेल और सोशल नेटवर्किंग साइट में ही नहीं होता है बल्कि हर जगह होता है फर्क बस इतना है की ईमेल में spam ज्यादा तादाद में होता है। यूट्यूब और वेबसाइट पर भी spam होता है।

इसके अलावा वेबसाइट पर भी कमेंट के द्वारा spam होता है यूट्यूब पर कमेंट और वीडियो के द्वारा spam होता है।

Spam करने से क्या फायदा होता है?

अब आपको यह तो पता चल गया की spamming क्या होता है। अब बात करते है की यह spam आखिर होता क्यों है और स्पैम करने से फायदा क्या होता है। spam करने से फायदा क्या होता है यह जानने के लिए आपको यह जानना होगा की spam हो कहाँ पर रहा है जैसे:-

E-mail Spam

अगर कोई ईमेल स्पैम करता है तो यहाँ spam करने का केवल एक ही फायदा है और वह है अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन। जैसे किसी कंपनी या व्यक्ति विशेष ने 1 लाख लोगो को spam मेल सेंड करि। जिसमें उसने अपना प्रोडक्ट promote किया है अब इन 1 लाख लोगो में से यदि 10 हजार लोगो ने भी उस ईमेल को खोला तो कंपनी का प्रोडक्ट इन 10 हजार लोगो में फ्री में promote हो गया। इसके अलावा अगर इन 10 हजार लोगो में से 1 हजार या 500 लोगो ने भी उस प्रोडक्ट को खरीद लिया तो इससे कंपनी की बिक्री भी हो गयी। और यह सब कुछ हुआ बिलकुल फ्री में जब की अपने प्रोडक्ट को इंटरनेट पर promote करने के पैसे लगते है यह एक paid method है जिसे की इन spammers ने बिलकुल फ्री में कर लिया।

सोशल नेटवर्किंग साइट पर Spam

फेसबुक पर स्पैम कोई अपने प्रोडक्ट को बेचने या promote करने के लिए तो नहीं करता है। लेकिन फेसबुक पर लोग अपने वेबसाइट, ब्लॉग, फेसबुक ग्रुप या फेसबुक पेज को promote करने के लिए और ज्यादा से ज्यादा traffic और followers लेने के लिए करते है।

अन्य Spam

इसी तरह वेबसाइट और यूट्यूब पर भी स्पैम होता है यहाँ spam अपने ब्लॉग, वेबसाइट या यूट्यूब चैनल पर views पाने के लिए करते है जिससे वह ज्यादा से ज्यादा traffic ले सके।

अगर आप यूट्यूब पर एक ही कमेंट को अलग अलग वीडियो के निचे कमेंट में कॉपी पेस्ट करते है तो यूट्यूब भी आपको थोड़े समय के लिए बेन कर देता है।

मोटे तौर पर आप यह लगा लीजिये की spam करने का एक मुख्य कारण है और वह है विज्ञापन। और विज्ञापन दिखाने के दो फायदे होते है एक तो विज्ञापन से revenue generate होता है और दूसरा की यदि कोई इस विज्ञापन से कुछ खरीद लेता है तो उससे उसकी sales बढ़ती है।

Spam E-mail कैसे पहचाने?

डिस्प्ले नाम चेक करे

अक्सर spam mail जो आती है वह कंपनी के नाम से आती है क्योकि spammers को पता होता है की प्राप्तकर्ता किसी बड़ी नामी कंपनी का नाम देख कर जरूर क्लिक करेगा। जैसे आपके पास RADO, Rolex, Tata Nexon, Reliance Jio और BSNL के spam मेल आ सकता है और आप सोचेंगे की यह मेल कंपनी ने ही किया है जबकि ऐसा नहीं है। ऐसी मेल 95% spam मेल ही होती है। इसलिए ऐसी मेल पर कभी क्लिक न करे।

मेल एड्रेस चेक करे

यह पता करने के लिए की यह मेल सच में कंपनी का है या स्पैम है आप मेल एड्रेस चेक कर सकते है क्योकि कंपनी का अपना मेल एड्रेस होता है जिसे और कोई कॉपी नहीं कर सकता है।

उदाहरण के लिए paytm कंपनी का यह मेल एड्रेस है [email protected] लेकिन यदि आपको spam मेल आता है तो आपको इसी मेल एड्रेस से मिलता जुलता मेल आएगा। लेकिन वह कंपनी का असली मेल एड्रेस नहीं होगा, जैसे [email protected]

तो आपको खासतौर से मेल एड्रेस को चेक करना है की यह कंपनी का है या नहीं।

स्पेलिंग चेक करे

किसी बढे ब्रांड की मेल में कभी कोई गलती नहीं होगी। लेकिन एक spam mail में कई बार गलतिया होती है क्योकि यह spammer कई मेल जल्दी जल्दी लिखते है ऐसे में इनसे कई बार grammer में गलती भी हो जाती है। इसलिए आप इन मेल को ध्यानपूर्वक पढ़े और गलती दिखाई देने पर उसके दिए लिंक पर कभी क्लिक न करे।

उपयुक्त मेल पर ही क्लिक करे

यह एक बोहोत जरुरी बात है की आप हमेशा उपयुक्त (relevant) मेल पर ही क्लिक करे। उदाहरण के लिए आपका आईसीआईसीआई बैंक में खाता है और आप आईसीआईसीआई बैंक का क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते है और आपके पास एक्सिस बैंक से मेल आता है की आपको आपके क्रेडिट कार्ड में 5000 reward point मिले है। reward point लेने के लिए अपने कार्ड का नंबर और cvv नंबर हमे मेल करे। तो ऐसे बेमतलब (irrelevant) मेल पर कभी भी क्लिक न करे।

ऑनलाइन tool की मदद से चेक करे

इसके अलावा आप ऑनलाइन टूल्स की मदद से भी मेल को चेक कर सकते है की यह मेल एड्रेस वैलिड है या नहीं यह ऑनलाइन टूल एक टेस्ट मेल, इन spam मेल पर भेजता है यदि मेल बाउंस हो गया तो मेल वैलिड नहीं है spam है और अगर चला गया तो मेल असली है। लेकिन मैं आपको यह तरीका आजमाने की सलाह नहीं दूंगा। क्योकि इसमें आपको अपनी मेल इसमें डालनी पड़ती है। और ऐसा करना पागलपन है इसीलिए आप यह तब तक न करे जब तक की आपको इसकी बोहोत जरूरत न हो। यदि आप उलझन में है की यह मेल असली न हो और असली मेल आपके लिए जरुरी हो तभी आप इस टूल को इस्तेमाल करे।

Spam से कैसे बचे?

1.अगर आपको संदेह हो की यह spam मेल है तो ऐसे में कभी भी उसके दिए लिंक पर क्लिक न करे।

2.अगर आपके पास किसी भी बैंक से मेल आती है और उस लिंक पर क्लिक करने पर वह लिंक आपको किसी बैंक के लॉगिन पेज पर ले जाता है तो उस लॉगिन पेज पर कभी भी अपने बैंक की डिटेल्स न डाले।

3.अगर आपके पास किसी भी प्रकार का मेल आता है जिसमें वह आपसे आपकी निजी जानकारी मांगता है तो ऐसे में आप कभी भी अपनी निजी जानकारी उन्हें न बताये।

4.संदेह होने पर ईमेल के साथ किसी भी प्रकार की कोई अटेचमेंट को डाउनलोड न करे। क्योकि कई बार इन मेल में वायरस भी होते है और जैसे ही आप उस अटेचमेंट को डाउनलोड करते है वैसे ही वह वायरस आपके कंप्यूटर या फ़ोन में आ जाता है और ऐसा करना आपको भारी पड़ सकता है क्योकि इस प्रकार के वायरस आपकी सारी निजी जानकारी हैकर को चुप चाप देते रहते है और आपको पता भी नहीं होता है। ज्यादा जानकारी के लिए virus full form पढ़े।

5.Spam मेल के द्वारा कुछ भी ऑनलाइन खरीदारी न करे। चाहे वह आपको ठीक पेज या वेबसाइट पर ही क्यों न ले गया हो लेकिन फिर भी आप उस लिंक के द्वारा कुछ न खरीदे क्योकि ऐसा करने से हैकर आपके बैंक की डिटेल को चुरा सकते है।

मुझे उम्मीद है की Spam Meaning In Hindi पर मेरे द्वारा दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। अगर फिर भी आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप मुझे कमेंट करके बता सकते है।

यह भी पढ़े

Bios क्या होता है Bios की Full Form क्या होती है?

DP का फुल फॉर्म क्या होता है? DP Ka Full Form Kya Hota Ha?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *