HDMI Full Form क्या होती है? HDMI क्या होता है? सम्पूर्ण जानकारी

क्या आपको पता है की HDMI क्या होता है और HDMI काम कैसे करता है या HDMI Full Form क्या होती है या HDMI के फायदे और नुक्सान क्या होते है अगर नहीं, तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

इस आर्टिकल में मैंने HDMI Full Form से लेकर एचडीएमआई के बारे में A to Z सारी जानकारी दी हुई है बस आपको इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पूरा पढ़ना है और इसे पढ़ने के बाद आपको HDMI के बारे में सब पता चल जाएगा। 

HDMI Full Form क्या होती है?

HDMI की Full Form होती है “High Definition Multimedia Interface” यह एक डिस्प्ले इंटरफ़ेस है जिसका इस्तेमाल ऑडियो और वीडियो सिग्नल ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है। HDMI Cable डिजिटल सिग्नल ट्रांसफर करती है। 

HDMI क्या है?

HDMI Full Form तो आपको पता चल गई अब बात करते है HDMI क्या होता है? दरअसल HDMI एक डिजिटल डिस्प्ले इंटरफ़ेस है। एचडीएमआई केबल का इस्तेमाल आज हर जगह किया जा रहा है जैसे कंप्यूटर, एलसीडी टीवी, projector और गेमिंग कंसोल आदि। एचडीएमआई केबल एक complete package है इसमें ऑडियो, वीडियो और इंटरनेट तीनो का सपोर्ट मिलता है।

अगर आपने बचपन में बड़े बड़े और मोटे टीवी देखे होंगे। तो आपको याद होगा की आपको टीवी देखने के लिए कई सारी तारे जोड़नी पड़ती थी जैसे 3rca या av केबल आप इन्हे निचे इमेज में देख सकते है। HDMI ने इन सब केबल को बदल दिया है आज एक एचडीएमआई केबल से ही सारे काम हो जाते है।

आपने अपने लैपटॉप, कंप्यूटर, मॉनिटर या एलसीडी में कुछ इस तरह का HDMI Port देखा होगा। आप निचे इमेज में देख सकते है। यह एचडीएमआई पोर्ट है थोड़ा थोड़ा usb port की तरह लगता है लेकिन ध्यान से देखने से आपको दोनों में साफ़ फर्क दिखने लगेगा।

hdmi full form

HDMI कैसे काम करता है?

HDMI केबल ऑडियो और वीडियो के सिग्नल को मॉनिटर या टीवी तक पहुँचाती है यह डिजिटल सिग्नल को ट्रांसफर करता है। एक एचडीएमआई केबल में 19 तरह की अलग अलग वायर लगी होती है। आप इसका structure निचे इमेज में देख सकते है। हर तार या पिन का काम अलग अलग होता है।

hdmi full form

HDMI के फायदे क्या है?

HDMI Full Form और एचडीएमआई के काम के बाद अब एचडीएमआई के फायदे की बात करते है। HDMI के एक नहीं बल्कि दर्जनों फायदे है और यह फायदे समय के साथ साथ जैसे जैसे इसके वर्जन आते गए वह फायदे बढ़ते गए है तो चलिए फिर इन फायदों को एक एक करके देखते है।

All In One – एचडीएमआई एक complete package है यानी अगर आपने एचडीएमआई केबल अपने टीवी या मॉनिटर में लगा ली तो इसेक बाद अब आपको कोई और केबल लगाने की जरुरत नहीं है। HDMI Cable ऑडियो, वीडियो और ईथरनेट तीनो को सपोर्ट करता है।

Portability – एचडीएमआई केबल बाकि केबल जैसे VGA और DVI केबल से साइज में छोटी और हल्की होती है।

Picture Quality – एचडीएमआई केबल में आपको बाकि किसी भी पुराने डिस्प्ले इंटरफ़ेस केबल से ज्यादा अच्छी क्वालिटी मिलती है। एचडीएमआई केबल से आप सिर्फ फुल एचडी या 4k वीडियो नहीं बल्कि 8k क्वालिटी में भी वीडियो चला सकते है जो की अभी के मुकाबले भी बहुत ज्यादा है।

Audio Quality – एचडीएमआई केबल से पिक्चर क्वालिटी के साथ साथ ऑडियो क्वालिटी पर भी प्रभाव पड़ता है। एचडीएमआई केबल वर्जन 2.0 में dolby atmos का भी सपोर्ट होता है तो इससे आपको सराउंड साउंड भी मिलेगा।

Ethernet – एचडीएमआई केबल में ऑडियो और वीडियो के साथ साथ ईथरनेट के चैनल भी होते है।

Two-Way Communication – एचडीएमआई केबल में दो तरफ़ा संचार होता है इससे एचडीएमआई केबल को टीवी या मॉनिटर से कनेक्ट करने के बाद आपको किसी भी सेटिंग को करने की जरुरत नहीं यह अपने आप configure हो जाती है।

Digital Signal – अब क्योकि एचडीएमआई केबल डिजिटल सिग्नल ट्रांसफर करती है इसीलिए यहाँ केबल की गुणवत्ता से कुछ भी फर्क नहीं पड़ता है एक 100 रूपये की एचडीएमआई केबल भी उतनी ही अच्छी पिक्चर क्वालिटी देती है जितना कोई ब्रांडेड केबल देती है क्योकि यहाँ एचडीएमआई केबल का काम सिर्फ उन डिजिटल सिग्नल को जो 0 और 1 में होते है एक जगह से दूसरी जगह पहुंचने का काम करती है।

HDMI के नुक्सान क्या है?

वैसे तो HDMI केबल के कोई ऐसे ख़ास नुक्सान नहीं है लेकिन जैसे हम जानते है की हर चीज़ के कुछ फायदे और कुछ चाहे थोड़े ही क्यों न हो लेकिन नुक्सान भी होते है तो चलिए अब hdmi cable के कुछ नुक्सान देख लेते है।

Price – एचडीएमआई केबल की कीमत VGA या DVI केबल से ज्यादा होता है और अगर आपको थोड़ी लम्बी केबल चाहिए तो इसकी कीमत उतनी भी हो सकती है जितना आपकी जेब आपको अनुमति भी ना देती हो। ये ही इसका एकमात्र नुक्सान है।

HDMI का इतिहास क्या है?

एचडीएमआई के संस्थापक Hitachi, Panasonic, Philips, Silicon Image, Sony, Thomson, RCA, और Toshiba थे। एचडीएमआई के संस्थापको ने एचडीएमआई 1.0 को 16 अप्रैल 2002 में बनाना शुरू किया था। एचडीएमआई को बनाने का मुख्य लक्ष्य Y′CBCR और audio को इस केबल में जोड़ने के लिए बनाया गया था क्योकि इससे पहले के डिस्प्ले इंटरफ़ेस जैसे VGA और DVI दोनों RGB को सपोर्ट करते है इसीलिए एचडीएमआई को DVI से बदलने के लिए बनाया गया था।

इसके बाद पहला Authorized Testing Center (ATC) यानी अधिकृत परीक्षण केंद्र, जो एचडीएमआई का परीक्षण करता है, 23 जून 2003 को कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका में सिलिकॉन इमेज द्वारा खोला गया था। जापान में पहला एटीसी 1 मई 2004 को Panasonic द्वारा ओसाका में खोला गया था।

यूरोप में पहला एटीसी 25 मई, 2005 को फ्रांस के केन, फ्रांस में Philips द्वारा खोला गया था। चीन में पहला एटीसी 21 नवंबर, 2005 को Shenzhen में सिलिकॉन इमेज द्वारा खोला गया था। Philips द्वारा भारत में पहला एटीसी 12 जून, 2008 को बैंगलोर में खोला गया था। एचडीएमआई वेबसाइट में सभी ATC की सूची शामिल है।

https://www.hdmi.org/

आंकड़ों के अनुसार, बेचे जाने वाले HDMI devices की संख्या 2004 में 5 मिलियन, 2005 में 17 4 मिलियन, 2006 में 63 मिलियन और 2007 में 143 मिलियन थी। यह आंकड़े चौकाने वाले है।

एक आंकड़े से अनुमान लगाया गया है की 2008 में 229 मिलियन एचडीएमआई डिवाइस बेचे गए थे। इसके साथ ही 8 अप्रैल 2008 को 850 से अधिक उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स और पीसी कंपनियां थीं जिन्होंने एचडीएमआई अपनाया (adopt) था।

इसके बाद 2007 में एचडीएमआई लाइसेंसिंग LLC ने घोषणा की कि एचडीएमआई 600 मिलियन से अधिक एचडीएमआई डिवाइस installed तक पहुंच गया है और एक आंकड़े के अनुमान से 394 मिलियन एचडीएमआई डिवाइस 2009 में बिकेंगे और 2009 के अंत तक सभी डिजिटल टीवी में कम से कम एक एचडीएमआई इनपुट तो जरूर होगा।

इसके बाद 25 अक्टूबर, 2011 को एचडीएमआई संस्थापकों द्वारा एचडीएमआई फोरम की स्थापना एक खुला संगठन बनाने के लिए की गई थी ताकि इच्छुक कंपनियां एचडीएमआई के विकास में भाग ले सकें। एचडीएमआई फोरम के सभी सदस्यों के पास समान मतदान अधिकार हैं, वे सभी तकनीकी कार्य समूह में भाग ले सकते हैं और चुना हुआ निदेशक मंडल में शामिल भी हो सकता है।

HDMI Forum में अनुमति की कंपनियों में संख्या की कोई सीमा नहीं है। हालांकि कंपनियों को उन कंपनियों के लिए जो निदेशक मंडल में सेवा करते हैं $ 15,000 का वार्षिक शुल्क के साथ $ 5,000 के अतिरिक्त वार्षिक शुल्क देना होगा।

निदेशक मंडल 11 कंपनियों से बना होता है जो हर 2 साल में एचडीएमआई फोरम के सदस्यों के एक सामान्य वोट द्वारा चुना जाता हैं। एचडीएमआई के सभी भविष्य के विकास एचडीएमआई फोरम में होते हैं। एचडीएमआई लाइसेंसिंग LLC ने घोषणा की कि 1,100 से अधिक एचडीएमआई अपनाने वाले थे और एचडीएमआई लॉन्च के बाद से 2 बिलियन से अधिक एचडीएमआई enable प्रोडक्ट को shipped कर दिया गया था।

इसके बाद 8 जनवरी, 2013 को एचडीएमआई लाइसेंसिंग LLC ने घोषणा की कि 1,300 से अधिक एचडीएमआई अपनाने वाले थे और एचडीएमआई मानक के लॉन्च के बाद से 3 बिलियन से अधिक एचडीएमआई डिवाइस को भेज दिया गया था। इस दिन ने पहली HDMI की रिलीज़ की 10वीं वर्षगांठ को भी चिह्नित किया।

HDMI के वर्जन कौन कौन से है?

एचडीएमआई के 2002 से 2017 तक एक के बाद एक वर्जन रिलीज़ होते गए। और हर बार एचडीएमआई की स्पेसिफिकेशन और बेहतर होती गई। मैं आपको इन संस्करणों के बारे में संक्षिप्त में बता देता हूँ।

Version 1.0 

एचडीएमआई 1.0 को 9 दिसंबर 2002 को जारी किया गया था और यह एक ऐसा केबल था जिसमें एक ही केबल में ऑडियो और वीडियो कनेक्टर इंटरफ़ेस थे इसका लिंक आर्किटेक्चर डीवीआई पर आधारित था। एचडीएमआई 1.0 अधिकतम 165 मेगाहर्ट्ज की अनुमति देता है, जो की DVI के ही समान है।

एचडीएमआई 1.0 वीडियो ट्रांसमिशन के लिए 8b / 10b एन्कोडिंग का उपयोग करता है, जिससे यह 3.96 Gbit / s वीडियो बैंडविड्थ और 8-चैनल LPCM / 192 kHz / 24-bit ऑडियो देता है। मूलरूप से एचडीएमआई 1.0 बिलकुल DVI की ही तरह था इसमें ज्यादा कुछ नया नहीं था।

Version 1.1 

एचडीएमआई 1.1 को 20 मई 2004 को जारी किया गया था और इसमें डीवीडी-ऑडियो का सपोर्ट जोड़ा गया था।

Version 1.2 

एचडीएमआई 1.2 को 8 अगस्त, 2005 को जारी किया गया था और 8 चैनलों का सुपर ऑडियो सीडी का उपयोग किए जाने वाले वन बिट ऑडियो का विकल्प जोड़ा गया था। पीसी डिवाइस पर उपयोग के लिए एचडीएमआई को अधिक उपयुक्त बनाने के लिए, वर्जन 1.2 ने यह आवश्यकता भी हटा दी कि केवल स्पष्ट रूप से समर्थित फॉर्मेट का उपयोग किया जाए।

Version 1.2a 

एचडीएमआई 1.2a को 14 दिसंबर, 2005 को जारी किया गया था और यह पूरी तरह से उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स नियंत्रण सुविधाओं, कमांड सेट और सीईसी अनुपालन परीक्षणों को निर्दिष्ट किया गया था।

Version 1.3 

एचडीएमआई 1.3 को 22 जून 2006 को जारी किया गया था, और अधिकतम TMDS क्लॉक को 340 MHz तक बढ़ा दिया था। यह AV रिसीवर द्वारा बाहरी डिकोडिंग के लिए Dolby TrueHD और DTS-HD मास्टर ऑडियो धाराओं के आउटपुट को वैकल्पिक रूप से भी सपोर्ट करता है। इसमें automatic ऑडियो सिंकिंग (ऑडियो वीडियो सिंक) क्षमता शामिल है।

इसके साथ इस केबल को केटेगरी 1 और 2 को बांटा गया है, जिसमें केटेगरी 1 केबल का 74.25 MHz तक परीक्षण किया गया है और केटेगरी 2 का 340 MHz तक परीक्षण किया गया है। इसने पोर्टेबल उपकरणों के लिए नए प्रकार C मिनी कनेक्टर को भी जोड़ा।

Version 1.3a

एचडीएमआई 1.3a को 10 नवंबर 2006 को जारी किया गया था, और इसमें टाइप सी के लिए केबल और सिंक संशोधन थे।

Version 1.4 

एचडीएमआई 1.4 को 5 जून 2009 को जारी किया गया था, और पहली बार 2009 के Q2 के बाद बाजार में आया था। एचडीएमआई 1.4 24 Hz पर 4096 × 2160 रेसोलुशन, 24 Hz , 25 Hz , और 30 Hz पर 3840 × 2160 रेसोलुशन और 120 Hz पर 1920 × 1080 रेसोलुशन को सपोर्ट करता है। एचडीएमआई 1.4 ने डिस्प्ले इंटरफ़ेस में मानो क्रांति ही ला दी थी।

एचडीएमआई 1.4 में ईथरनेट चैनल को भी जोड़ा गया जिससे दो एचडीएमआई डिवाइस में ईथरनेट को शेयर करा जा सके। यह 100 Mbit/s ईथरनेट को सपोर्ट करता है। इसके साथ इसमें ऑडियो रिटर्न चैनल को भी जोड़ा गया। इसके अलावा यह एचडीएमआई केबल 3d को भी सपोर्ट करता है जिससे आप इस केबल के द्वारा घर पर ही 3d मूवी का मज़ा ले सकते है। इसके साथ इसमें एक नया micro hdmi connector भी है। इसके अलावा भी इसमें और कई फीचर्स को जोड़ा गया था।

Version 1.4a 

एचडीएमआई 1.4a को 4 मार्च 2010 को जारी किया गया था और इसमें दो 3d फॉर्मेट को ब्रॉडकास्ट के लिए जोड़ा गया था।

Version 1.4b 

एचडीएमआई 1.4b को 11 अक्टूबर, 2011 को जारी किया गया था एचडीएमआई 1.4b मानक का अंतिम वर्जन है जो एचडीएमआई लाइसेंसिंग, LLC के लिए जिम्मेदार है। इसके बाद एचडीएमआई के सभी भविष्य के वर्जन को एचडीएमआई फोरम द्वारा प्रस्तुत किया गया था, जिसे 25 अक्टूबर 2011 को बनाया गया था।

Version 2.0 

एचडीएमआई 2.0 को HDMI UHD के रूप में कुछ मेन्यूफैकचर्स द्वारा रेफर किया गया था जिसे 4 सितंबर 2013 को जारी किया गया था। एचडीएमआई 2.0 अधिकतम बैंडविड्थ 18.0 Gbit / s तक को सपोर्ट करता है। इसके साथ एचडीएमआई 2.0 पिछले वर्जन की तरह वीडियो ट्रांसमिशन के लिए 8b / 10b एन्कोडिंग का उपयोग करता है, जिससे यह 14.4 Gbit / s का अधिकतम वीडियो बैंडविड्थ देता है।

एचडीएमआई 2.0 24 bit/px color डेप्थ के साथ 4k वीडियो को 60 Hz पर प्ले करने की क्षमता रखता है। इसके अलावा भी इसमें और कई फीचर्स को जोड़ा गया है जो इसे पिछले वर्जन से बेहतर बनाते है।

Version 2.0a 

एचडीएमआई 2.0a को 8 अप्रैल 2015 को जारी किया गया था, और इसमें स्टेटिक मेटाडेटा के साथ HDR (High Dynamic Range) वीडियो के सपोर्ट को जोड़ा गया था।

Version 2.0b 

एचडीएमआई 2.0b मार्च, 2016 में जारी किया गया था। एचडीएमआई 2.0b ने शुरू में CTA-861।3 स्पेसिफिकेशन के अनुसार एचडीएमआई 2.0a के समान HDR10 मानक का सपोर्ट किया था।

Version 2.1 

एचडीएमआई फोरम द्वारा 4 जनवरी, 2017 को HDMI 2.1 की आधिकारिक घोषणा की गई थी, और इसे 28 नवंबर, 2017 को जारी किया गया था। यह 120 Hz पर 4k और 120 Hz पर 8k वीडियो को सपोर्ट करता है जो की आज के हिसाब से भी बहोत ज्यादा है क्योकि अभी भी 4k और 8k टीवी हर उपभोक्ता तक नहीं पहुंचे है।

HDMI 2.1 ने एक नई केटेगरी को भी पेश किया जिसे UHS (Ultra High Speed ) कहते है। यह शब्द आपने नए 4k और 8k टीवी में जरूर सुना होगा।

एचडीएमआई 2.1 अधिकतम 10k रेसोलुशन 120 Hz पर सपोर्ट करता है। इसके अलावा भी इसमें कई बेहतरीन फीचर्स है जिसे इस्तेमाल करने के लिए आपके पास 4k या 8k टीवी होना चाहिए।

मुझे उम्मीद है की आपको HDMI Full Form और एचडीएमआई के बारे में सम्पूर्ण जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर फिर भी आपका कोई सवाल हो तो आप हमे निचे कमेंट करके बता सकते है।

यह भी पढ़े

LAN Full Form क्या होती है? LAN क्या होता है?

WiFi Full Form क्या होती है? WiFi क्या होता है? सम्पूर्ण जानकारी

Leave a comment

Content Protected
4 Shares
Tweet
Pin2
Share2
Share